Sunday, January 16, 2022
- Advertisement -
Breaking Newsतालिबान की धमकी : ताजिकिस्तान और उज्बेकिस्तान से कहा- हम कमजोर हैं...

तालिबान की धमकी : ताजिकिस्तान और उज्बेकिस्तान से कहा- हम कमजोर हैं डरपोक नहीं, सैन्य विमान वापस करें – news 2022


एजेंसी, काबुल।
Published by: योगेश साहू
Updated Thu, 13 Jan 2022 12:50 AM IST

सार

कार्यकारी रक्षामंत्री  मुल्ला मोहम्मद याकूब ने ताजिकिस्तान और उज्बेकिस्तान से कहा है कि धैर्य की परीक्षा न लें, हम अपनी संपत्ति वापस लेकर रहेंगे। दरअसल, इन देशों के पास अफगानिस्तान से ले जाए गए 40 से ज्यादा विमान और हेलिकॉप्टर हैं।

प्रतीकात्मक तस्वीर।
– फोटो : प्रतीकात्मक

ख़बर सुनें

तालिबान के कार्यकारी रक्षामंत्री मुल्ला मोहम्मद याकूब मुजाहिद ने ताजिकिस्तान और उज्बेकिस्तान से कहा है कि अफगानिस्तान के विमानों और हेलिकॉप्टरों को उन्हें लौटा देना चाहिए। ये विमान पिछली सरकार के सत्ता से जाने के बाद पड़ोसी देशों में ले जाए गए हैं। उन्होंने धमकी देते हुए कहा, हम कमजोर हो सकते हैं लेकिन डरपोक नहीं। 

हम अपने 40 से ज्यादा विमानों व हेलिकॉप्टरों को वापस लेकर रहेंगे। काबुल में अफगानिस्तानी पायलटों और एयरफोर्स कर्मियों को संबोधित करते हुए मुजाहिद ने कहा कि यदि ताजिस्तिान और उज्बेकिस्तान ने उनके देश की संपत्ति वापस नहीं लौटाई तो तालिबान कार्रवाई कर सकता है। 

अफगानिस्तान के रक्षामंत्री ने कहा, मैं उनसे अनुरोध करना चाहता हूं कि वे हमारे धैर्य की परीक्षा न लें। मुजाहिद ने देश छोड़कर नहीं जाने वाले अफगानिस्तानी वायुसेना के पायलटों और इंजीनियरों को शुक्रिया कहा और जो बीते महीनों में देश छोड़कर चले गए हैं उनसे वापस लौटने की अपील की। 

पिछली सरकार के पतन से पहले अफगानिस्तान में 164 से अधिक सक्रिय सैन्य विमान थे, जो अब सिर्फ 81 ही बचे हैं। टोलो न्यूज ने बताया कि शेष को अफगानिस्तान से बाहर विभिन्न देशों में ले जाया गया है। 

सख्त भाषा व चेतावनी का इस्तेमाल पहली बार
अफगानिस्तान के कार्यकारी रक्षामंत्री मोहम्मद याकूब मुजाहिद ने कहा कि वे वायुसेना को मजबूत बनाना चाहते हैं जो विदेशी आर्थिक मदद पर निर्भर न रहकर अफगानिस्तान की सीमाओं की सुरक्षा कर सके। यह पहली बार है जब तालिबान ने अपने पड़ोसियों के खिलाफ इस तरह की कठोर भाषा और चेतावनियों का इस्तेमाल किया है।

विस्तार

तालिबान के कार्यकारी रक्षामंत्री मुल्ला मोहम्मद याकूब मुजाहिद ने ताजिकिस्तान और उज्बेकिस्तान से कहा है कि अफगानिस्तान के विमानों और हेलिकॉप्टरों को उन्हें लौटा देना चाहिए। ये विमान पिछली सरकार के सत्ता से जाने के बाद पड़ोसी देशों में ले जाए गए हैं। उन्होंने धमकी देते हुए कहा, हम कमजोर हो सकते हैं लेकिन डरपोक नहीं। 

हम अपने 40 से ज्यादा विमानों व हेलिकॉप्टरों को वापस लेकर रहेंगे। काबुल में अफगानिस्तानी पायलटों और एयरफोर्स कर्मियों को संबोधित करते हुए मुजाहिद ने कहा कि यदि ताजिस्तिान और उज्बेकिस्तान ने उनके देश की संपत्ति वापस नहीं लौटाई तो तालिबान कार्रवाई कर सकता है। 

अफगानिस्तान के रक्षामंत्री ने कहा, मैं उनसे अनुरोध करना चाहता हूं कि वे हमारे धैर्य की परीक्षा न लें। मुजाहिद ने देश छोड़कर नहीं जाने वाले अफगानिस्तानी वायुसेना के पायलटों और इंजीनियरों को शुक्रिया कहा और जो बीते महीनों में देश छोड़कर चले गए हैं उनसे वापस लौटने की अपील की। 

पिछली सरकार के पतन से पहले अफगानिस्तान में 164 से अधिक सक्रिय सैन्य विमान थे, जो अब सिर्फ 81 ही बचे हैं। टोलो न्यूज ने बताया कि शेष को अफगानिस्तान से बाहर विभिन्न देशों में ले जाया गया है। 

सख्त भाषा व चेतावनी का इस्तेमाल पहली बार

अफगानिस्तान के कार्यकारी रक्षामंत्री मोहम्मद याकूब मुजाहिद ने कहा कि वे वायुसेना को मजबूत बनाना चाहते हैं जो विदेशी आर्थिक मदद पर निर्भर न रहकर अफगानिस्तान की सीमाओं की सुरक्षा कर सके। यह पहली बार है जब तालिबान ने अपने पड़ोसियों के खिलाफ इस तरह की कठोर भाषा और चेतावनियों का इस्तेमाल किया है।

LEAVE A REPLY

Exclusive content

- Advertisement -

Latest article

More article

- Advertisement -